मुंबई नहीं ले गया पति तो पत्नी ने दी फांसी लगाकर जान, सूचना पाकर पति ने किया ये काम

news aap tak

धर्मापुर (जौनपुर): गौराबादशाहपुर थाना क्षेत्र के नैपुरा गांव में सोमवार को पति के साथ मुंबई जाने की जिद पर अड़ी विवाहिता ने पति द्वारा मना कर दिए जाने के बाद फांसी लगाकर जान दे दी। घटना उस वक्त हुई जब पत्नी को मना करने के बाद पति मुंबई जा रहा था और पत्नी की मृत्यु का समाचार सुन वाराणसी से उसे वापस आना पड़ गया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार गौराबादशाहपुर थाना क्षेत्र के नैपुरा गांव निवासी रामबचन निषाद रोजी-रोटी के सिलसिले में मुंबई रहता है और वह इस समय घर आया हुआ था। वह जब से घर आया हुआ था तब से उसकी पत्नी वंदना उम्र 31 वर्ष उसके साथ जाने की जिद पर अड़ी हुई थी, परंतु राम बचन कम कमाई का हवाला देकर उसे साथ ले जाने से मना कर रहा था। फिर उसने होली के त्योहार तक रुकने के लिए जिद करने लगी इसी बात को लेकर सोमवार को भी विवाद उस वक्त बढ़ गया जब रामबचन उसे छोड़कर मुंबई जाने लगा।

Viral Video: भाजपा सांसद ने विधायक की जूते से की पिटाई

रामबचन के घर से निकलने के कुछ ही देर बाद लगभग 11 बजे वंदना ने कमरे के अंदर खुद को बंद कर कुंडे में साड़ी का फंदा लगाकर फांसी लगाकर अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली। थोड़ी देर के बाद परिवार का कोई सदस्य जब कमरे में से कोई सामान लेने गया तो उसे फांसी के फंदे पर लटकी बंदना दिखी। ये देख उसकी चीख पुकार सुनकर परिवार के अन्य सदस्य मौके पर पहुंचे और उसे नीचे उतारा। सूचना पाकर उसका पति भी जो कि वाराणसी पहुंच चुका था वापस आ गया था। उसने इसकी सूचना फोन से वंदना के मायके वालों को और पुलिस को दी।

मौके पर पुलिस पहुँचकर लाश का पंचनामा कर के पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। इस संदर्भ में पूछे जाने पर एसओ गौराबादशाहपुर विजय कुमार चौरसिया ने बताया कि मृतिका के मायके के लोगो द्वारा कोई तहरीर नही मिली है।

LEAVE A REPLY